तकनीक (13)

तकनीक

तकनीक की खबरें 

आज के वक्त में पूरी दुनिया इंस्टेंट मेसेजिंग ऐप Whatsapp का इस्तेमाल करती है और साथ ही अपने जरूरी और पर्सनल काम इस प्लेटफॉर्म पर करती है।कई बार ऐसा होता है कि कई लोग अपने चैट को पर्सनल रखना चाहते है और साथ ही किसी के साथ सांझा नहीं करते है।इसके लिए Whatsapp ने यूजर्स को चैट को सिक्यूर करने के लिए कई फीचर लॉन्च किए है, जिसमें end-to-end encryption शामिल हैअब व्हाट्सएप अपने यूजर्स की चैट को सुरक्षित रखने के लिए Fingerprint फीचर जल्द ही लॉन्च करने वाली है। आइए जानते है इसके बारे में....WhatsApp अब एंड्रॉयड स्मार्टफोन यूजर्स के लिए भी फिंगरप्रिंट ऑथेन्टिकेशन फीचर लाने की तैयारी कर रहा है. इससे पहले कंपनी ने iOS यूजर्स के लिए ये फीचर जारी कर दिया है.

WABetainfo की एक रिपोर्ट के मुताबिक WhatsApp ने बीटा वर्जन 2.19.83 में फिंगरप्रिंट ऑथेन्टिकेशन का फीचर दिया है. इस अपडेट के बाद यूजर्स अपने वॉट्सऐप को फिंगरप्रिंट स्कैनर से अनलॉक कर पाएंगे. हालांकि अभी भी ज्यादातर एंड्रॉयड स्मार्टफोन में ऐप लॉक करने का फीचर दिया जाता है जिसे फिंगरप्रिंट स्कैनर से अनलॉक किया जा सकता है और लोग इसे वॉट्सऐप के लिए भी यूज करते हैं एंड्रॉयड में दिए जाने वाले वॉट्सऐप के इस नए फीचर को यूजर्स प्राइवेसी टैब में जाकर एनेबल कर सकते हैं. यहां iOS जैसे ही ऑप्शन दिखेंगे, यानी आप ये सेट कर सकते हैं कि एक बार अनलॉक करने के बाद कितने समय तक आपको फिंगरप्रिंट की जरूरत नहीं होगी. इसमें एक मिनट, 10 मिनट और 30 मिनट तक का समय है.

iOS के लिए दिए गए बायोमैट्रिक ऑथेन्टिकेशन वाले वॉट्सऐप के फीचर में सिर्फ टच आईडी ही नहीं, बल्कि फेस अनलॉक का भी ऑप्शन दिया गया है. लेकिन ये साफ नहीं है कि एंड्रॉयड स्मार्टफोन में वॉट्सऐप को फेस से अनलॉक किया जा सकेगा या नहीं. क्योंकि अब ज्यादातर एंड्रॉयड स्मार्टफोन्स में फेस अनलॉक का फीचर मिलता है. हालांकि ये फीचर आईफोन के लेवल का सिक्योर नहीं होता.WhatsApp से ही जुड़ी दूसरी रिपोर्ट की बात करें तो कंपनी ने एंड्रॉयड के लिए डार्क मोड देना शुरू कर दिया है. ये अभी टेस्टिंग के तौर पर है, लेकिन सिर्फ सेटिंग्स में डार्क मोड दिया जा रहा है. उम्मीद है जल्द ही इसका पब्लिक बीटा जारी किया जाएगा और तब आप भी वॉट्सऐप का डार्क मोड यूज कर सकते हैं

ब्लू-व्हेल पर दिल्ली हाई कोर्ट ने गूगल और फेसबुक को किया तलब नई दिल्ली (23 अगस्त): दिल्ली हाईकोर्ट ने 'ब्लू व्हेल चैलेंज' गेम को प्रतिबंधित करने के मामले में टेक कंपनी गूगल इंडिया, फेसबुक इंडिया और याहू इंडिया से जवाब मांगा है। इसके साथ ही कोर्ट ने दिल्ली पुलिस और केंद्र को नोटिस जारी कर उनसे भी इस मामले में जवाब मांगा है। अदालत मामले की अगली सुनवाई 19 सितंबर को करेगी।

नई दिल्ली (20 अगस्त): रिलायंस जियो ने 1500 रुपये में फीचर फोन देने का ऐलान किया है। हालांकि 3 साल के बाद उस राशि को रिफंड कर दिया जाएगा, लेकिन अब जिया को टक्कर देने के लिए एक नया फीचर फोन बाजार में आ गया है।

भारतीय कंपनी Detel ने इस फीचर फोन को लांच किया है। इस मॉडल का नाम है डी-1। कंपनी ने इस फीचर फोन की कीमत 299 रुपए रखी है, वो भी होम डिलीवरी के साथ। इस फोन को कंपनी की वेबसाइट http://detel-india.com पर बुक किया जा सकता है।

फोन के फीचर्स...

- यह सिंगल सिम फोन है।

- इसमें 1.44 इंच का ब्लैक एंड व्हाइट डिस्प्ले दिया गया है।

- इसमें 650mAh की बैटरी दी गयी है।

- एक बार फुल चार्ज होने के बाद यह 15 दिन तक स्टैंडबाय सपोर्ट देगी।

- इसमें एक टॉर्च और एफएम भी दिया गया है।

- फोन में वाइब्रेशन मोड और लाउड स्पीकर की भी सुविधा है।

- इस फोन में 4जी सपोर्ट नहीं दिया गया है।

 

नई दिल्ली(2 अगस्त): डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनाव अपने चरम पर है। भारत के खिलाफ चीन की किसी भी तरह की साजिश को नकार नहीं दिया जा सकता। ऐसे में चीन के पास एक ऐसा हथ‌ियार है ज‌िसे वह भारत के ख‌िलाफ इस्तेमाल कर सकता है।

- बता दें क‌ि, बीती 25 जुलाई को उत्तराखंड में चीनी सैन‌िकों ने घुसपैठ की थी।

- इधर वाड़‌िया इंस्टीट्यूट के वैज्ञान‌िकों का कहना है क‌ि चीन के पास एक खतरनाक हथ‌ियार है। ऐसे में भारत को इससे सावधान रहने की जरूरत है।

- वैज्ञानिकों का कहना है कि चीन के पास पानी की इतनी शक्ति है कि अगर भारत ने उसपर नजर नहीं रखी तो बहुत बड़ा नुकसान हो सकता है।  हाल ही में एक रिसर्च के मुताब‌िक वैज्ञानिक संतोष राय का कहना है कि अगर चीन घाघरा, गंडक और ब्रह्मपुत्र जैसी नदियों का पानी रोक कर अचानक छोड़ता है तो भारत के लिए हालात बेहद खतरनाक हो जाएंगे।

- वैज्ञानिकों का मानना है क‌ि चीन भारत से काफी ऊंचाई पर है और उसके यहां से आ रही विशाल नदियां पानी का जबरदस्त वेग लेकर आती हैं। सीमा पर जिस तरह से विवाद चल रहा है उसके बाद हमारी सरकार और हमें चौकन्ना रहने की जरूरत है क्योंकि अगर चीन ये हरकत करता है तो हमारे लिए हालात बेहद खतरनाक हो जाएंगे।

Page 1 of 4
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…