नई दिल्ली॥ महाराष्ट्र में जन्मी राष्ट्रीय समाज पक्ष पार्टी ने अपने राष्ट्रव्यापी विस्तार के चरण में दिल्ली में दस्तक देते हुए अपना 15वा स्थापना दिवस मनाया।

पार्टी का अधिवेशन दिल्ली के कॉंस्टीट्यूशन क्लब में मनाया गया जिसमें मुख्य अतिथि केन्द्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री, भारत सरकार नितिन गडकरी थे और इस बैठक की अध्यक्षता महाराष्ट्र की महिला एवं बाल विकास मंत्री पंकजा मुंडे ने की। श्री नितिन गडकरी ने राष्ट्रीय समाज पक्ष (आरएसपी) को बधाई देते हुए कहा कि वो आरएसपी के उस मिशन की सराहना करते हैं जिसमें इसके संस्थापक श्री महादेव जानकर जी ने जाति पाति से ऊपर उठ कर  एक राष्ट्र का सपना देखा है। इस अवसर पर उन्होंने महादेव जानकर जी के साथ अपने संस्मरणो को भी सुनाया।

इसके अलावा अन्य अतिथिगण में गिरीराज सिंह, सूक्ष्म,लघु, मध्यम उद्योग राज्य मंत्री, रामदास अठावले, केन्द्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता, राज्य मंत्री, हंसराज अहीर, केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री, सुभाष भाम्बरे, केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री, श्रीमति अनुप्रिया पटेल, केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण राज्य मंत्री, स्वामी प्रसाद मौर्य, श्रम सेवा योजन एवं समंवयक केबिनेट मंत्री, उत्तर प्रदेश सरकार, डॉ प्रीतम मुंडे, संसद सदस्य, डॉ विकास महात्मे, संसद सदस्य उपस्थित थे। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फणनवीस अपरिहार्य कारणो से उपस्थित नहीं हो सके।

राष्ट्रीय समाज पक्ष के संस्थापक व कैबिनेट मंत्री महादेव जानकर ने अधिवेशन में कहा कि महाराष्ट्र से निकल कर अब आरएसपी देश भर में काम करने के लिये तैयार है। वर्तमान में महादेव जानकर महाराष्ट्र सरकार में पशुपालन, डेयरी विकास और मत्स्य विकास मंत्री हैं। उन्होंने कहा कि आरएसपी अभी कुछ राज्यों में काम कर रही है लेकिन मैं जब तक चैन से नहीं बैठने वाला जब तक संसद में हमारा प्रतिनिधित्व ना हो जाए।

उन्होंने कहा कि आरएसपी महाराष्ट्र में अभी एनडीए की एलाएंस है लेकिन 2019 के आम चुनाव में उनका लक्ष्य देश के हर राज्य से अपने उम्मीदवार खड़ा करने का है। इसके लिये पहले दिल्ली में अपनी जगह बनाना जरूरी है। हमने दिल्ली में पार्टी को खड़ा करने के लिये प्रदेश अध्यक्ष की कमान श्री सुभाष सिंह को सौंपी है जो एक जाने माने पत्रकार हैं।

दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष का कार्यभार मिलने पर जब श्री सुभाष सिंह से पूछा गया कि पार्टी को आगे बढ़ाने का उनका क्या लक्ष्य है तो उन्होने कहा कि सबसे पहले उनका काम दिल्ली में प्रदेश कमिटी बनाना होगा। कमिटी बन जाने के बाद वो पार्टी के एक राष्ट्र के सपने को साकार करने के लिये जानकर जी द्वारा दिखाई गाइड लाइन का पालन करेंगे। अधिवेशन में आरएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अक्कीसागर ने सुभाष सिंह को नियुक्ति पत्र सौंपा।

महिला एवं बाल विकास मंत्री पंकजा मुंडे ने समापन भाषण में कहा कि भाजपा अगर मेरी माँ है तो राष्ट्रीय समाज पक्ष पार्टी मेरी मौसी की तरह है, और कहते है कि माँ से ज्यादा प्यार मौसी से किया जाता है। इसी तरह मेरा प्यार मौसी से अधिक ही है। उन्होंने कहा कि पार्टी के संस्थापक और मेरे भाई महादेव जानकर जी के त्याग की बात करूं तो उन्होंने एक राष्ट्र के सपने के लिये राष्ट्रीय समाज पक्ष की स्थापना की और 27 सालों से अपने घर तक नहीं गये। ऐसा त्याग और ऐसी भावना राजनीति में अब कम देखने को मिल रही है। कॉंस्टीट्यूशन क्लब के पास ही मावलंकर हॉल में चल रहे नेशनल कॉंग्रेस के वार्षिक अधिवेशन पर चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा कि बगल वाले हॉल में ही देख लीजिये जहाँ एक और पार्टी का अधिवेशन चल रहा है, उन्हे देख कर ही आपको दोनो पार्टियो के जमीनी स्तर का फर्क समझ आ जाएगा। मेरी कामना है कि राष्टीय समाज पक्ष देश में जल्द ही अपना वर्चस्व बनाए।

पार्टी के वार्षिक अधिवेशन में उत्तर प्रदेश, राजस्थान, महाराष्ट्र, हरियाणा, तमिलनाडु से 10 हजार से अधिक कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। इसमें बडी संख्या में उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र के किसान भी शामिल थे।

श्रीनगर(26 अगस्त): जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिला पुलिस लाइन पर फिदायीन हमला हुआ है, जिसमें स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) के जवान शहीद और सीआरपीएफ के 5 जवानों समेत 6 जवान घायल हुए हैं। घटना शनिवार सुबह हुई है।

-  जानकारी के मुताबिक हमले से पहले दो से तीन संदिग्ध आतंकियों को पुलिस लाइन इलाके में देखा गया, जिसके बाद उन्हें खत्म करने के लिए सीआरपीएफ के जवानों ने गोलीबारी की है। गोलीबारी में 1 SOG जवान शहीद और 6 सीआरपीएफ जवान जख्मी हुए हैं।

- खबर है कि मुठभेड़ में एक एसओजी जवान शहीद सहित छह जवान घायल हुए हैं।

नई दिल्ली (26 अगस्त): डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को दोषी ठहराए जाने के बाद पैदा हुई स्थिति से निपटने को लेकर निशाने पर आए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने स्वीकार किया कि चूक हुई है, लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि उचित कार्रवाई की जा रही है। हिंसा पर तीखे सवालों का सामना करते हुए खट्टर ने कहा ने कहा, 'चूक की पहचान की गई है और हम उचित कदम उठा रहे हैं। उन्होंने कहा, ' ऐसा नहीं होना चाहिए।' हिंसा में कम से कम 30 लोग मारे गए हैं और सैकड़ों घायल हो गए हैं।

सीएम ने कहा, 'कुछ लोगों ने जान गंवा दी और वाहनों को आग लगा दी गई और सरकारी संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाया गया। भीड़ ने मीडिया की कुछ ओबी वैन को भी क्षतिग्रस्त कर दिया।' उन्होंने कहा, 'जिन लोगों ने भी कानून को अपने हाथों में लिया उन्हें सजा दी जाएगी। हमने कुछ दोषियों की पहचान कर ली है, जिनमें सुरक्षाबलों पर गोलियां चलाने वाले लोग भी शामिल हैं, इनमें से कुछ को पकड़ लिया गया है और उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।'  पहली कार्रवाई के तौर पर पंचकूला के डीएसपी को निलंबित किया गया है।

नई दिल्ली(26 अगस्त): साध्वी से रेप मामले में दोषी करार दिए गए डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को रोहतक जिले के सुनरिया स्थित एक जेल में रखा गया है।

- रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्हें अलग सेल में रखा गया है। अन्य कैदियों से इतर राम रहीम के लिए खास बंदोबस्त किए गए हैं।

- रिपोर्ट्स के अनुसार जेल में उनके पीने के लिए मिनरल वॉटर का इंतजाम किया गया। बता दें कि पंचकूला स्थित स्पेशल सीबीआई कोर्ट से उन्हें हेलिकॉप्टर से रोहतक लाया गया था।

- बताया जा रहा है कि गुरमीत राम रहीम को जेल में एक असिस्टेंट भी मुहैया कराया गया है जो उनकी जरूरतों का ध्यान रखेगा। इसके अलावा वह जेल में अपने कपड़े पहन सकते हैं जबकि अन्य कैदियों को जेल से मिले कपड़े पहनने होते हैं।

- रोहतक के उपायुक्त अतुल कुमार ने बताया, 'गुरमीत राम रहीम को (रोहतक के) सुनरिया में एक जेल में रखा गया है। जेल के आसपास सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। सीबीआई के वकील एच पी एस वर्मा के मुताबिक पंचकूला की विशेष सीबीआई अदालत के जज जगदीप सिंह ने गुरमीत को दोषी करार देने के बाद कहा कि दी जाने वाली सजा की अवधि 28 अगस्त को तय की जाएगी

- गुरमीत को दोषी ठहराए जाने के तुरंत बाद सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा के समर्थकों ने हंगामा शुरु कर दिया और सुरक्षा बलों के साथ उनकी झड़प हुई, जिसमें कम से कम 30 लोग मारे गए और 250 से ज्यादा जख्मी हुए। पंचकुला में 28 लोगों की जान गई जबकि

नई दिल्ली(26 अगस्त): पंचकूला हिंसा के बाद केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने हाईलेवल बैठक बुलाई है। बैठक में पंजाब और हरियाणा में हुई हिंसा को लेकर चर्चा होगी। 

पटना(26 अगस्त): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने के लिए बिहार के लिए रवाना हो गए हैं। राज्य सरकार मोदी को बाढ़ से राज्य में हुई भारी क्षति पर सरकार रिपोर्ट सौंपेगी।

- सुबह 9.50 पर मोदी विशेष विमान से सीधे पूर्णिया पहुंचेगें। जहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी स्वागत करेगें। पीएम मोदी कटिहार,किशनगंज, अररिया, पूर्णिया और फारबिसगंज समेत बाढ़ प्रभावित जिलों का हवाई सर्वे करेगें। यह 45 मिनट का कार्यक्रम है। फिर पीएम पूर्णिया लौटकर बाढ़ पर मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री और राज्य के अधिकारियों के साथ बैठक करेगें।

- इस दौरान मुख्यमंत्री बाढ़ की क्षति का ब्यौरा देगें।

- अब तक बाढ़ में 420 लोगो की मौत हो गई है। अब तक 10 हजार करोड़ की क्षति हुई है जिसमे 19 जिले प्रभावित है। और उसके बाद पीएम 11 बजकर 35 मिनट पर पूर्णिया से सीधे दिल्ली के लिए रवाना हो जायेगें।

नई दिल्ली(26 अगस्त): साध्वी से रेप के आरोप में सीबीआई की विशेष अदालत ने शुक्रवार को डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम को दोषी करार दिया। राम रहीम को क्या सजा मिलेगी इसका फैसला कोर्ट सोमवार को करेगी। जब जज जगदीप सिंह ने गुरमीत राम रहीम सिंह इंसा को बलात्कार का दोषी बताया तो डेरा प्रमुख पहले तो यह समझ ही नहीं पाए कि जज ने कहा क्या है। जब उनके वकील ने उन्हें बताया कि अदालत ने उन्हें दोषी करार दिया गया है तो वह बिल्कुल चौंक गए।

- कोर्ट में मौजूद रहे सीबीआई के वकील एचपीएस वर्मा ने बताया कि राम रहीम फैसला सुनने के बाद कुछ देर तक सदमे में रहे।

- सुनवाई के दौरान गुरमीत राम रहीम अपने दोनों हाथ मोड़े चुपचाप बैठे रहे। वह कोर्ट में लगभग आधे घंटे मौजूद रहे। उनके अलावा कोर्ट में दो वरिष्ठ सीबीआई अधिकारी, एक आईजी रैंक के अफसर, सीबीआई के एक वकील और बचाव पक्ष के एक वकील मौजदू थे। फैसले के तुरंत बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया।

- गिरफ्तारी के बाद पुलिस अधिकारी उन्हें कोर्ट के बाहर खड़ी स्कॉर्पियो कार तक ले गए। वहां पुलिस ने उनसे कहा कि वह एक स्पेशल कैमरे में अपना बयान रिकॉर्ड कर अपने समर्थकों से शांति बनाए रखने की अपील करें। इसके बाद सिरसा से गुरमीत के काफिले में आई गाड़ियों को इलाके से बाहर जाने को कह दिया गया। फिर राम रहीम को हेलिकॉप्टर के जरिए पंचकूला से बाहर ले जाया गया। पुलिस के मुताबिक, उन्हें रोहतक ले जाया गया।

नई दिल्ली(23 अगस्त): देश के 3 राज्यों में 4 विधानसभा सीटों पर बुधवार को उपचुनाव हो रहे हैं। चार सीटों में दो सीटों पर पूरे देश की नजर रहेगी, इनमें दिल्ली की बवाना और गोवा की पणजी सीट शामिल है।

-  बुधवार को आंध्र प्रदेश में नंदयाल, गोवा में पणजी व वालपोई और दिल्ली में बवाना विधानसभा सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं। इन उपचुनावों के नतीजे 28 अगस्त को आएंगे।

- दिल्ली की बवाना विधानसभा सीट पर उपचुनाव में सीधे तौर पर आम आदमी पार्टी, भारतीय जनता पार्टी के बीच टक्कर है. आम आदमी पार्टी के विधायक वेद प्रकाश के इस्तीफे के बाद यह सीट खाली हुई थी, वेद प्रकाश अब बीजेपी में शामिल हो गए हैं। जिसके बाद AAP ने रामचंद्र को मैदान में उतारा है, वहीं कांग्रेस की ओर से सुरेंद्र कुमार चुनाव लड़ रहे हैं।

- दिल्ली के अलावा सभी की नजरें गोवा में टिकी हुई हैं, यहां पर मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर चुनाव मैदान में हैं। रक्षा मंत्री के पद से इस्तीफा देने के बाद मुख्यमंत्री बने पर्रिकर पणजी से चुनाव लड़ रहे हैं।

- मनोहर पर्रिकर के खिलाफ कांग्रेस के गिरिश चंदोनकर लड़ रहे हैं। वहीं वालपोई में बीजेपी की ओर से विश्वजीत राणे चुनावी मैदान में हैं, जिनके सामने कांग्रेस के रवि नायक हैं।

- इन 3 सीटों के अलावा आंध्रप्रदेश की नंदयाल में भी उपचुनाव हैं। यहां पर वोटिंग के लिए VVPAT का इस्तेमाल किया जा रहा है। इस सीट पर TDP और YSRCP के बीच सीधा मुकाबला है।

Page 1 of 16
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…