आपके क्षेत्र में आपकी मजबूत आवाज बनेगा लीड इंडिया

23 March 2017
Author :  

यदि समस्या सरकारी विभागों, थाने अस्पतालों इत्यादि से हो तो लीड इंडिया आपकी समस्याओं को प्रमुखता से कवर करेगा।

कैसा हो यदि एक अखबार आपको आमंत्रण दे कि आइये अपनी समस्या हमसे साझा किजिये? कैसा हो जब आपकी परेशानी में आपके साथ एक अखबार कन्धे से कन्धा मिलाकर खड़ा हो? निश्चित ही आपकी शक्ती बढ़ जाएगी। थाना हो, अस्पताल हो, कचहरी हो या कोई भी सरकारी विभाग आपके क्षेत्र में आपकी मजबूत आवाज बनेगा ‘लीड इंडिया’।

ना चाहते हुए भी एक आम आदमी को कई तरह की समस्याओं से गुजरना पड़ता है। यदि समस्या आपकी व्यक्तिगत हो तो आप चाहे जैसे मर्जी उसे सुलझा लेते हैं लेकिन यदि समस्या सरकारी विभागों, थाने, अस्पताल से हो तो उस समय आप असहाय हो जाते हैं। और ऐसे समय पर आपको सरकारी विभागों, थानों अस्पतालों द्वारा कई ऐसे नये नियम कायदे बताये जाते हैं जिनको आपने कभी सुना ही नहीं और आप उन नियम कायदों में उलझ कर रह जाते हैं और कुछ चक्कर लगाने के बाद थक हार कर वापस बैठ जाते हैं।

  • थाना, कचहरी, अस्पताल, सरकारी विभागों में बनेगा आपकी आवाज़
  • सिटिजन चार्टर लागू होने के बावजूद समय पर नहीं होता काम

लेकिन ‘लीड इंडिया’ आपको असहाय नहीं रहने देगा और आपकी इन्हीं समस्यायों को प्रमुखता से कवर करेगा। मान लीजिये कि आपने अपना राशन कार्ड बनने के लिये आवेदन किया है और कई बार विभाग के चक्कर काटकर भी आपका काम नहीं हुआ, तो उदाहरण के लिये ‘लीड इंडिया’ की हैड लाइन होगी “दो महीने से चक्कर काट रहे सुशांत को अब तक नहीं मिला राशन कार्ड”

दिल्ली में लागू सिटिजन चार्टर के मुताबिक हर विभाग को जनता के कार्य तय समय सीमा में करने होते हैं, ऐसे में ‘लीड इंडिया’ के रिपोटर्स संबन्धित विभाग के अधिकारियों की जवाबदेही पर सवाल करेंगे। और निश्चित रूप से ही अगर आपकी खबर “लीड इंडिया’ में छप जाएगी तो उसका समाधान अवश्य होगा।

236 Views
Super User
Login to post comments
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…