विशेष (25)

विशेष

नई दिल्ली(26 अगस्त): साध्वी से रेप के आरोप में सीबीआई की विशेष अदालत ने शुक्रवार को डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम को दोषी करार दिया। राम रहीम को क्या सजा मिलेगी इसका फैसला कोर्ट सोमवार को करेगी। जब जज जगदीप सिंह ने गुरमीत राम रहीम सिंह इंसा को बलात्कार का दोषी बताया तो डेरा प्रमुख पहले तो यह समझ ही नहीं पाए कि जज ने कहा क्या है। जब उनके वकील ने उन्हें बताया कि अदालत ने उन्हें दोषी करार दिया गया है तो वह बिल्कुल चौंक गए।

- कोर्ट में मौजूद रहे सीबीआई के वकील एचपीएस वर्मा ने बताया कि राम रहीम फैसला सुनने के बाद कुछ देर तक सदमे में रहे।

- सुनवाई के दौरान गुरमीत राम रहीम अपने दोनों हाथ मोड़े चुपचाप बैठे रहे। वह कोर्ट में लगभग आधे घंटे मौजूद रहे। उनके अलावा कोर्ट में दो वरिष्ठ सीबीआई अधिकारी, एक आईजी रैंक के अफसर, सीबीआई के एक वकील और बचाव पक्ष के एक वकील मौजदू थे। फैसले के तुरंत बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया।

- गिरफ्तारी के बाद पुलिस अधिकारी उन्हें कोर्ट के बाहर खड़ी स्कॉर्पियो कार तक ले गए। वहां पुलिस ने उनसे कहा कि वह एक स्पेशल कैमरे में अपना बयान रिकॉर्ड कर अपने समर्थकों से शांति बनाए रखने की अपील करें। इसके बाद सिरसा से गुरमीत के काफिले में आई गाड़ियों को इलाके से बाहर जाने को कह दिया गया। फिर राम रहीम को हेलिकॉप्टर के जरिए पंचकूला से बाहर ले जाया गया। पुलिस के मुताबिक, उन्हें रोहतक ले जाया गया।

नई दिल्ली (23 अगस्त): अब वर्तमान समय में दिनोंदिन नयी नई टेक्नोलॉजी आ रही है अभी वर्तमान समय में एक टेक्नोलॉजी स्वास्थ्य को लेकर आई है। शोधकर्ताओं ने मकड़ी के जाले से दिल की मांसपेशीय टिशू बनाए हैं। इन टिशू का निर्माण यह जांच करने के लिए किया गया है कि 'कृत्रिम रेशम प्रोटीन' हृदय के टिशू के निर्माण के लिए उपयुक्त हो सकते है या नहीं। इस्केमिक बीमारियों- जैसे कार्डियक इन्फ्रेक्शन से हृदय की मांसपेशीय कोशिकाओं की स्थायी हानि का कारण बनती है। इसकी वजह से

दिल की कार्यक्षमता कम हो जाती है, जिसका दिल के कार्य पर असर पड़ता है। वहीँ जर्मनी के इरलगेन-नर्नबर्ग (एफएयू) स्थित फ्रेडरिक एलेक्जेंडर विश्वविद्यालय के शोधकतार्ओं के अनुसार, रेशम कृत्रिम दिल के टिशू बनाने में कारगर हो सकता है। रेशम की संरचना व यांत्रिक स्थिरता देने का कार्य फाइब्रोनिन प्रोटीन करता है। शोधकर्ताओं के अनुसार यह टेक्नोलॉजी’ बहुत कारगार साबित होगी जो की दिल के मरीजों के लिए काफी मदगार साबित होगी

 

नई दिल्ली (8 अगस्त): भारत छोड़ो आंदोलन (1942) के 75 वर्ष पूरे होने पर 9 अगस्त को संसद के दोनों सदनों में विशेष चर्चा होगी। इस संबंध में एक प्रस्ताव पारित किया गया है जिसके अनुसार इस दिन संसद में नियमित कामकाज नहीं होगा। साथ ही, सरकार ने स्वतंत्रता दिवस को संकल्प दिवस के रूप में मनाने का भी फैसला किया है।

नई दिल्ली(2 अगस्त): एनजीटी ने उत्तर प्रदेश सरकार को ताजमहल के आसपास से अवैध निर्माण हटाने को कहा है। एऩजीटी के आदेश के मुताबिक यूपी सरकार को ताजमहल के पास बने अवैध रेस्टोरेंट को ध्वस्त करना होगा। साथ एनजीटी ने सरकार से ताजमहल के आसपास हरियाली बढाने को कहा है।

लखनऊ(1 अगस्त): उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार गरीब लड़कियों को शादी में स्मार्टफोन का उपहार देगी। इसके अलावा पहले की तरह 20 हजार रुपये भी मिलता रहेगा।

- गरीब लड़कियों की शादी में राज्य सरकार सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन करेगी। इस तरह के आयोजनों में सांसद और विधायक के अलावा समाज के प्रतिष्ठित लोगों को भी बुलाया जाएगा।

- मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के पहले चरण में 71400 लड़कियों की शादी कराएगी। पांच से अधिक विवाह होने पर यह समारोह क्षेत्र पंचायत, जिला पंचायत, नगर निगम और नगरपालिका परिषद के स्तर पर आयोजित किया जाएगा। जिलाधिकारी एक विवाह कार्यक्रम समिति का गठन करेंगे।

- समिति ही टेंट, विवाह संस्कार, पेयजल आदि की व्यवस्था कराएगी। पहले जहां इस योजना के तहत लाभार्थी को 20 हजार रुपये का अनुदान दिया जाता था, वहीं अब सरकार 35 हजार रुपये खर्च करेगी। इसमें बीस हजार कन्या के खाते में, दस हजार से कपड़े, बिछिया, पायल, सात बर्तन, एक जोड़ी वस्त्र और स्मार्ट फोन खरीदा जाएगा। पांच हजार रुपये पंडाल आदि आदि के लिए अधिकृत निकायों को दिया जाएगा।

मुंबई (15 जुलाई): दीपिका पादुकोण यूं तो बॉलीवुड की नंबर वन हीरोइन हैं, उनके करोड़ों फैंस हैं लेकिन आजकल वो सोशल मीडिया पर ट्रोल भी खूब हो रही है । हाल ही में दीपिका ने अपने लेटेस्ट फोटोशूट की कुछ तस्वीरें सोशल साइट पर पोस्ट की । इस फोटोशूट में दीपिका काफी स्किनी यानी दुबली-पतली लग रही हैं। इसी बात पर कुछ लोगों ने ताना मारते हुए उन्हें बीमार बता दिया तो किसी ने उन्हें बदसूरत कह दिया। एक यूज़र ने तो दीपिका को कुछ खाने पीने की सलाह तक दे डाली और एक ने उनसे पूछ लिया कि क्या भूख लगी है खाना चाहिए। एक यूजर ने तो ये तक लिख दिया कि क्या आप मलेरिया और डेंगू की शिकार हैं।

कुछ दिन पहले भी दीपिका एक हॉट तस्वीर शेयर की थी। उस तस्वीर को भी  उऩकी जमकर खिंचाई हुई थी। दीपिका के उस तस्वीर को देख लोंगों ने उन्हें क्या-क्या ना कहा।

भोपाल: एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते आपको पता होना चाहिए कि आपके टैक्स का पैसा कहां जा रहा है। लोकतंत्र हमको ये सब जानने की सुविधा भी देता है। और ऐसा ही कुछ है जो सबको जानना चाहिए। जी हां मध्य प्रदेश के सलमतपुर में लगे एक पीपल के पेड़ को जिंदा रखने के लिए शिवराज सरकार हर साल 12 लाख रुपए खर्च करती है।

- यूनेस्को के विश्व धरोहर स्थल में शामिल सांची स्तूप से 5 किलोमीटर की दूरी पर लगा यह पीपल का पेड़ देश का संभवत: पहला वीवीआईपी पेड़ है।

- पेड़ की सुरक्षा के लिए मध्य प्रदेश सरकार ने चार सुरक्षा कर्मियों की तैनाती भी की है जो 24 घंटों इस पेड़ की निगरानी करते हैं। इस पेड़ की सुरक्षा में लगे एक सुरक्षाकर्मी, परमेश्वर तिवारी ने बताया, 'मैं यहां '2012 से तैनात हूं। यहां कुल चार सुरक्षाकर्मी तैनात हैं। पहले इस पेड़ को देखने को काफी लोग आते थे लेकिन अब कुछ ही लोग आते हैं।

- इस पेड़ को 5 साल पहले भारत दौरे पर आईं श्रीलंका की पूर्व राष्ट्रपति महिन्द्रा राजपक्षे अपने साथ लेकर आईं थी। इस पेड़ को उन्होंने ही लगाया था।

- इस वीवीआईपी पेड़ में पानी देने के लिए सरकार ने एक अलग से पानी की टंकी बनाई है। साथ ही इस पेड़ की देखरेख के लिए कृषि विभाग से समय-समय पर एक वनस्पति-वैज्ञानिक भी आते हैं जो इस पेड़ के स्वास्थय को जांचते हैं।

- सांची स्थित भारतीय महाबोधि सोसाइटी के सदस्य भंटे चंदारतन ने बताया, '300 ईसा पूर्व पवित्र बोधि पेड़, जिसके नीचे बैठकर गौतम बुद्ध को सत्य की प्राप्ति हुई थी, की एक शाखा भारत से श्रीलंका ले जाया गया था जिसे अनुरुद्धपुरा में लगाया गया था। महिंद्रा राजपक्षे 5 साल पहले इसी पेड़ की एक शाखा अपने साथ भारत लेकर आईं जिसे उन्होंने यहां लगाया।'

- एसडीएम वरुण अवस्थी ने बताया, 'हमने पेड़ की सुरक्षा और उसे समय-समय से पानी देने के लिए चार सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की है। यह पूरा पहाड़ी इलाका बौद्ध विश्वविद्यालय को आवंटित किया जा चुका है। साथ ही इस पूरे इलाके को बौद्ध-सर्किट के तौर पर विकसित किया जा रहा है।'

 

 

नई दिल्ली: आजकल अधिकतर लोग मोटापे से परेशान हैं। ज्यादातर लोगों का शादी के बाद वजन बहुत ज्यादा बढ़ जाता है। खासकर महिलाओं का। शरीर में चर्बी आने से शरीर बहुत बेडौल सा दिखने लग जाता है। आज हम उन लोगों को कुछ आसान टिप्स बताने जा रहे हैं जो वजन कम करना चाहते हैं। बस जो हम टिप्स बताएंगे उसको नियमित एक महीने तक फॉलो करने पर लगभग चार-पांच किलो तक वजन बहुत ही आसानी से कम किया जा सकता है।

वैसे तो नींबू पानी पीने से वेट लॉस होता है। लेकिन नींबू पानी को ज्यादा असरदार बनाने के लिए इसमें शहद और दो चुटकी दालचीनी पाउडर भी मिला सकते हैं। दरअसल दालचीनी में ऐसे एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो भूख कम करते हैं। इससे ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल होता है। दालचीनी लेने का असर बॉडी के मेटाबॉलिज्म पर भी होता है।

इससे एक्सट्रा फैट बर्न होता है और वजन तेजी से घटता है।

-गुनगुने पानी में नीबू का रस मिलाएं इसमें आधा चम्मच शहद और दो चुटकी दालचीन पाउडर मिलाकर पीएं। रोज सबह खाली पेट पीएं। इसे 30 दिन पीने से वजन कम होगा।

इसमें दाल चीनी की मात्रा अधिक न मिलाएं इसके ज्यादा इस्तेमाल से नुकसान हो सकता है।

-मीठा को अनदेखा करें। पश्चिमोत्तनासन और नौकासन को रोज सुबह 10 मिनट तक करें।

-लौकी जूस में दालचीनी की कुछ बूंदे मिलाकर पीने से मोटापा घटेगा। 

-अदरक की चाय में दालचीनी मिलाकर पीने से बाॅडी के टाॅनिक्स दूर होते हैं। इससे मोटापा कम होता है।

नई दिल्ली(11 जुलाई): कहते हैं डॉ दुनिया में दूसरे भगवान होते हैं, सच भी है। भगवान के बाद डॉ ही हमें नया जीवन देते हैं। भारत की प्रसिद्ध  संस्था कॉर्डियोलोजी सोसाइटी ऑफ इंडिया,  दिल के मरीजों के लिये एक ऐसा स्पेशल कैम्पेन करने जा रही है जिससे डॉ और मरीज के रिश्तों की एक नई तस्वीर सामने आयेगी। ये एक पब्लिक एजुकेशन प्रोग्राम है जिसे देश के विभिन्न प्रसिद्ध अस्पतालो में काम कर रहे कॉर्डियोलॉजिस्ट और फिजिशियंस सीएसआई के माध्यम से मिल कर आयोजित करेंगे।

कॉर्डियोलॉजी सोसाइटी ऑफ इंडिया (सीएसआई) भारत की सबसे पुरानी और रेपुयुटेटेड सोसाइटी है, ऐशिया पैसिफिक में इसका दूसरा स्थान है। इसकी स्थापना अमेरिकन कॉलेज ऑफ कॉर्डियोलॉजी एंड द इंटरनैशन सोसाइटी एंड फेडरेशन ऑफ कॉर्डियोलॉजी से एक साल पहले 4 अप्रैल 1948 को हुई थी।

एम्स के कॉर्डियोलोजिस्ट विभाग के प्रोफेसर संदीप मिश्रा ने लीड इंडिया को बताया कि “दिल का हाल सुने दिलवाला” एक बहुत खास कैम्पेन है जिसके माध्यम से वो मरीज अपनी स्टोरीज़ शेयर करेंगे जिन्होंने दिल की बीमारियों की गम्भीर समस्या को झेला। इस कार्यक्रम के माध्यम से लोग जानेंगे कि किस तरह उन्हे फास्ट और पर्फेक्ट ट्रीटमेंट मिला। इनकी कहानियां कई मरीजो को हौसला देंगी।

हमारा मकसद ऐसे मरीजों की कहानियों को शेयर करना है जिन्होंने दिल की बीमादियो का बेहतर इलाज पाया है और आज एक स्वस्थ जीवन जी रहे हैं। इस कार्यक्रम के माध्यम से हम डॉक्टर और मरीज के बीच कमजोर हो रहे रिश्तो को एक बार फिर से गर्म जोशी से भरना चाहते हैं।

डॉ0 संदीप मिश्रा ने बताया कि इस कैम्पेन के लिये हमने स्टोरी टेलिंग की विधा को चुना, क्योंकि कहानी भारतीय जीवन शैली का अभिन्न हिस्सा हैं कहानियों से हम बड़ी से बड़ी सीख सरल तरीके से ले लेते हैं। इन कहानियों से ना सिर्फ अवेयरनेस होगी बल्कि डॉ और मरीज के रिश्तों को भी नया विश्वास मिलेगा।

डॉ संदीप मिश्रा ने बताया की हम मीडिया और सोशल नेटवर्क के माध्यम से ऐसे मरीजों की स्टोरीज कलेक्ट करेंगे जिन्होंने  ह्रदय संबंधी बिमारियों का इलाज कराया है और आज एक स्वस्थ और अच्छा जीवन जी रहे हैं इसके लिए सीएसआई ने एक ई-मेल आईडी भी जारी की है, हार्ट का ट्रीटमेंट करवा चुके मरीज हमें अपनी कहानी ई-मेल के द्वारा भेज सकते हैं, इन कहानियों में से तीन बेहतरीन कहानियों को पुरस्कृत भी किया जायेगा, हमारा ई-मेल है This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.

संवाददाता: विशाल राघव

लखनऊ (11 जुलाई): जम्मू-कश्मीर में अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कावड़‍ियों की सुरक्षा के लिए सख्त निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश भर में संदिग्ध गतिविधियों में लिप्त तत्वों पर निगरानी रखने और आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने इस संबंध में देर रात प्रदेश के पुलिस महानिदेशक, प्रमुख सचिव (गृह) और अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) के साथ बैठक की है। प्रवक्ता ने बताया कि योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमला एक कायराना हमला और निन्दनीय कृत्य है।

योगी ने मृतकों के परिजन के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है। उन्होंने कांवड़ यात्रा को पूरे प्रदेश में सकुशल सम्पन्न कराने में पूरी मुस्तैदी के साथ सभी अधिकारियों और पुलिस बल को कार्य करने के लिए कहा है।

Page 1 of 2
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…