लीड इंडिया की हर दूसरे हफ्ते लगेगी जनअदालत। जन अदालत में आप अपने क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों, जिम्मेदार अधिकारियों, कर्मचारियों से पूछ सकेंगे सीधे सवाल। आपकी समस्याओं का होगा सीधा समाधान।

किसी भी क्षेत्र के विकास के लिये यह जरूरी होता है कि उस क्षेत्र की जनता और उस क्षेत्र से संबंधित अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों का संवाद हो। परंतु ऐसा संवाद आमतौर से हमारी समाज में देखने को नहीं मिलता। पिछले कुछ वर्षों से जनता दरबार के रूप में जनप्रतिनिधियों ने संवाद स्थापित करना शुरू किया है लेकिन वहां भी वो प्रश्न नहीं उठ पाते जो जनप्रतिनिधियों से पूछे जाने चाहिये।

लीड इंडिया बुराड़ी के विकास में जन अदालत के अपने पेज को बहुत ही महत्वपूर्ण मानता है, क्योंकि इस पेज के माध्यम से हर दूसरे हफ्ते हम उस व्यक्ति को जनता के सामने लायेंगे जिनसे जनता सवाल करना चाहती है। आमतौर से एक क्षेत्र में 15 दिनों में कोई ना कोई व्यक्ति जरूर होता है जो सुर्खियों में रहता है। उनकी चर्चा होती है, चाहे अच्छे काम के लिये चाहे बुरे काम के लिये। तब आपके मन में कई सवाल आते हैं मगर उनका उत्तर आपको नहीं मिल पाता। लीड इंडिया उन शख्सियत से भी आपको रूबरू करवाएगा जिनसे आप सवाल जवाब करना चाहते है।

जन अदालत में आने वाले अतिथि किसी भी क्षेत्र से हो सकते हैं। हो सकता है कि किसी छात्र ने बहुत ही अच्छी उपलब्धी हासिल की हो जो पूरे क्षेत्र के लिये उपलब्धी हो वह भी जन अदालत में आने वाले अतिथि हो सकते हैं। किसी राजनैतिक, सामाजिक, आध्यात्मिक व्यक्ति ने कोई बहुत अच्छा कार्य किया हो या किसी वजह से उनके जनमानस उनके खिलाफ हुआ हो तो लीड इंडिया ऐसे व्यक्तियों को भी जन अदालत में जनता के समक्ष पेश करेगा।  साथ ही लीड इंडिया की जन अदालत में ऐसे अतिथियों  को भी बुलाया जाएगा जो देश के ऐसे जाने माने लोग हों, जो किसी ना किसी तरह बुराड़ी या बुराड़ी के विकास से जुड़े हों।

लीड इंडिया का यह जन अदालत पेज हर दूसरे हफ्ते आयेगा जिसमें जनता की तरफ से जो सवाल होंगे और जो अतिथि की तरफ से जवाब होंगे उन्हे पूर्णतया तथ्यात्मक तरीके से लीड इंडिया में प्रकाशित किया जाएगा।

  • क्षेत्र की जिम्मेदार हस्तियों से जनता करेगी सीधे सवाल जवाब

 

  • हल होंगी मुश्किले, मिलेंगे समाधान

 

  • हर दूसरे हफ्ते लगेगी लीड इंडिया की जन अदालत

 

जन अदालत का आयोजन बुराड़ी के सार्वजनिक स्थान पर किया जाएगा। जिसमें आपके क्षेत्र की खास शख्सियत को आमंत्रित किया जाएगा जो उस हफ्ते चर्चा में होगा या लीड इंडिया के हेल्प लाइन नम्बर पर जनता ने जिसे सम्मन जारी किया होगा। उस शख्सियत से हर तरह के सवाल करने के लिये जनता भी मौजूद रहेगी, जनता की तरफ से लीड इंडिया के संपादक उनसे सवाल जवाब करेंगे।

लीड इंडिया की जन अदालत में अलग अलग क्षेत्र के दिग्गज लोगो को जज के रूप में आमंत्रित करेंगे जो चर्चित हस्ती पर लगे इल्जामों, जनता के सवालों और उस पर उनकी दी गई सफाई का विश्लेषण करके अपना फैसला सुनाएंगे।

नई दिल्ली(3 अप्रैल): कपिल शर्मा को लेकर सोनी एंटरटेनमेंट चैनल साल 2017-18 के लिए कॉन्ट्रैक्ट रीन्यू करने को लेकर असमंजय में हैं। 24 अप्रैल 2016 को आए द कपिल शर्मा शो का पहला एपिसोड बहुत हिट हुआ था जिसकी वजह से सोनी एंटरटेनमेंट काफी खुश था।

वो स्टार कॉमेडियन और उनके को स्टार्स को इस सक्सेस के बदले काफी बड़ी राशि देने के लिए तैयार था। लेकिन अब खबर है कि 106 करोड़ की डील अब रीन्यू नहीं होगी।

खबर है कि सोनी चैनल ने कपिल को अपना एक्ट साथ में करने के लिए एक महीने का समय दे दिया है। एक सूत्र ने एक अंग्रेजी वेबसाइट को बताया कि अगर कपिल अपने शो का ब्वॉयकॉट कर चुके सदस्यों और चैनल की टीआरपी को वापस लाने में सफल हो जाते हैं तो चैनल कॉन्ट्रैक्ट रीन्यू करने को लेकर सोच सकती है।

 शो की टीआरपी लगातार गिर रही है और इस समय यह टॉप 10 से बाहर हो चुका है। कपिल और सुनील की लड़ाई का असर साफ तौर पर नजर आ रहा है। इससे नकारात्मक पब्लिसिटी हुई है। हालांकि सूत्रों के अनुसार सुनील ग्रोवर और उनके साथी चंदन प्रभाकर, सुगंधा मिश्रा और अली असगर का शो पर वापसी करने का कोई मूड नहीं हैं।

 वहीं वरिष्ठ कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव को सुनील ग्रोवर की जगह लाया गया है लेकिन वो डॉक्टर गुलाटी का जादू चला पाने में अक्षम हैं।

 

नई दिल्ली॥ काले धन के कुबेरों पर शिकंजा कंसने के लिए मोदी सरकार ने ऑपरेशन ब्लैक मनी शुरू कर दिया है। इसी ऑपरेशन के तहत आज देशभर में 300 से ज्यादा जमाखर्ची (शैल) कंपनियो के ठिकाने पर छापेमारी की जा रही है।

मिली जानकारी के अनुसार, प्रवर्तन निदेशालय की टीम एंट्री आपरेटरों पर कार्रवाई कर रही है। इसी के साथ 300 शैल कंपनियों पर भी कार्रवाई की जा रही है। इन्हीं दोनों के जरिए काले धन को सफेद करने का खेल होता है। बताया जा रहा है कि इस छापेमारी में ईडी के सैंकडों अफसर शामिल है और 16 राज्यों में एक साथ इस तरह की कार्रवाई की जा रही है।

सूत्रों के अनुसार, ईडी की टीम दिल्ली, चंडीगढ़, पटना, रांची, अहमदाबाद, उड़ीसा, बेंगलोर, चेन्नई आदि जगहों पर एक साथ कार्रवाई कर रही है। अब तक के छापे के दौरान अनेक महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद हुए हैं, जिनमें कई सौ करोड़ के लेनदेन का ब्यौरा मिला है। छापे से अनेक सफेदपोशों में भी हंडकंप मचा हुआ है और उनकी पोल खुलने की आशा है।

ईडी के निदेशक कर्नल सिंह ने कहा, "एंट्री आपरेटर और शैल कंपनी काले धन को सफेद करने में रीढ की हड्डी होते है, ब्लैक मनी के इस खेल में जो भी शामिल पाया जायेगा बख्शा नहीं जाएगा।"

साल 2006 में एक कार्यक्रम में जब लीड इंडिया के एडिटर-इन-चीफ सुभाष सिंह की मिसाइलमैन डॉ कलाम से मुलाकात हुई तो सोचा नहीं था कि उनसे इतना गहरा रिश्ता जुड़ जाएगा। उनके एक सवाल के जवाब में डॉ कलाम ने मीडिया से अपनी उम्मीद दोहराई जिसे वो पहले भी कई मौको पर कह चुके थे। वो मीडिया से उम्मीद करते थे कि मीडिया सकारात्मक खबरों को वरीयता दे और लोगो के काम आये।

इस बात से प्रेरित होकर लीड इंडिया ग्रुप के चेयमैन एंड एडिटर इन चीफ सुभाष सिंह ने डॉ कलाम साहब के संरक्षण में लीड इंडिया अखबार को रजिस्टर्ड कराया और कुछ ही सालों में यह एक स्थापित अखबार बना। कुछ ही वर्षो के बाद लीड इंडिया ने रीजनल अखबारों को मजबूत करने के लिये एक संगठन “लीड इंडिया पब्लिशर्स ऐसोसिएशन (लीपा)” की स्थापना की।

लीड इंडिया की टीम ऐसोसिएशन और लीड इंडिया अखबार के माध्यम से अखबारों और जनता की समस्याओं का नजदीक से अध्ययन कर रही थी अक्सर मीडिया की दशा से चिंतित होकर हम इन विषयों पर डॉ कलाम साहब से चर्चा करते, कभी पत्रों के माध्यम से कभी मुलाकात करके। कलाम साहब अपने सहज और सरल अन्दाज में बहुत महत्वपूर्ण सलाह देते थे जो हमारे लिये हमेशा मार्गदर्शक साबित हुईं।

डॉ कलाम अक्सर कहते थे दिन प्रतिदिन संचार माध्यमों और मीडिया का विकास हो रहा है फिर भी देश के केवल 2% लोगो की समस्याएं ही मीडिया के माध्यम से सामने आ पातीं हैं। ज्यादातर समस्याएं जो सामने आती हैं वो राष्ट्रीय मुद्दो से जुड़ी होती है अथवा किसी मुद्दे की सूचना मात्र भर होती हैं, ऐसे में मीडिया का क्षेत्रीय स्तर पर विकास होना बेहद जरूरी है।

वर्ष 2015 में हैदराबाद में डॉ कलाम लीड इंडिया पब्लिशर्स एसोसिएशन (लीपा) की सालाना बैठक में इसी विषय पर संबोधन करने वाले थे। मगर बैठक से एक महीना पहले 27 जुलाई 2015 को ही उनका निधन हो गया। लीड इंडिया ग्रुप ने उसी सालाना बैठक में उनके आखिरी संबोधन को मूर्त रूप देने का निर्णय किया और एक ऐसे अखबार की रूप रेखा तैयार की जो कलाम साहब की इच्छा को पूरा करता हो। इस तरह लीड इंडिया के बुराड़ी प्रोजेक्ट का जन्म हुआ। इस अखबार का एक ही विजन है कि इस अखबार के माध्यम से बुराड़ी की जनता की सेवा हो सके उनकी समस्याओं को उठाया जा सके। बाद में इसी पैटर्न पर सभी विधानसभाओं में लीड इंडिया के अलग एडिशंस की शुरूआत की जाएगी।

 तरूणा एस. गौड़ 

 

नई दिल्ली॥ कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुरूवार को जंतर-मंतर पर प्रदर्शन कर रहे तमिलनाडु के किसानों से मिलने जाएंगे। इससे पहले एक्टर प्रकाश राज और विशाल भी इन किसानों से मिल चुके हैं।

प्रकाश राज ने कहा, "इनकी आवाज कोई नहीं सुन रहा है, मैं यहां आया हूं ताकि संबंधित मंत्रालय का ध्यान इस तरफ जा सके।" बता दें कि तमिलनाडु में सूखे की मार और कर्ज़ में दबे 100 किसान यहां भूख आंदोलन पर बैठे हैं।

जंतर-मंतर पर विरोध जता रहे ये किसान अपने विरोध के अनूठे तरीके के लिए चर्चा में हैं। ये किसान खोपड़ी लेकर विरोध कर रहे हैं।

इन किसानों की मांग है कि सूखे की वजह से हुए नुकसान के लिए सरकार इन्हें मुआवज़ा दे और इनका कर्ज़ माफ़ कर दे।

 

देहरादून॥ उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग ने बिजली की दरों में 5.72 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी की है। बढ़ी हुई दरें 1 अप्रैल से लागू हो जाएंगी।

पिछले साल भी विद्युत नियामक आयोग ने 5 प्रतिशत की बिजली दरों में इजाफ किया था, लेकिन इस बार पिछली बार की तुलना में और ज्यादा इजाफ करते हुए विद्युत नियामक आयोग ने 5.72 प्रतिशत की वृद्धि की है।

ऊर्जा विभाग ने विद्युत नियामक आयोग 13.48 प्रतिशत की बिजली की दरों को बढ़ाने का प्रस्ताव भेजा था, लेकिन आयोग ने 5.72 प्रतिशत की वृद्धि की है।

आयोग के अध्यक्ष सुभाष कुमार का कहना है कि जो दरें बढ़ाई गई हैं, वह मामूली है और खासकर बीपीएल परिवारों और किसानों को इसमें छूट दी गई है। साथ ही सुभाष कुमार का कहना है कि उत्तराखंड देश के सभी राज्यों में सबसे सस्ती बिजली देने वाले राज्यों में नम्बर 1 पर बना हुआ है।

लखनऊ॥ योगी सरकार ने नकल पर नकेल कसने के लिए सरकार ने 57 केंद्रों को परीक्षा लेने से रोक लगा दी है तो वहीं 111 परीक्षा केंद्र के 178 निरीक्षकों के साथ-साथ 70 से ज्यादा छात्रों पर सख्त कदम उठाते हुए एफआईआर दर्ज की गई है।

जानकारी के मुताबिक लखनऊ में सूबे के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की जिसके बाद देर रात ये फैसला लिया गया।

इस मीटिंग में शिक्षा अधिकारी मौजूद थे। वहीं सरकार की ओर से ये भी निर्देश जारी किया गया है कि अगर कोई शिक्षक नकल कराते हुए पकड़ा गया तो उसे बर्खास्त कर दिया जाएगा।

उत्तर प्रदेश में बोर्ड परीक्षाएं चल रही है और हर बार की तरह इस बार भी नकल करने की शिकायतें काफी मिली जिसके चलते योगी सरकार ने नकलचियों को सबक सिखाने कुछ दिन पहले हेल्पलाइन नंबर सहित वाट्यअप नंबर जारी किया है। जिस पर कोई भी व्यक्ति नकल के संबंध में सूचना दे सकता है।

ये हेल्पलाइन नंबर 0522-2236760, 9454457241 है। शिकायत मिलते ही संबंधित जिले के अधिकारी तुरंत इस पर कार्यवाई करेंगे। बताया जा रहा है ये नंबर हर दिन 12 घंटे काम करेगा और इस दौरान आप इस पर नकल संबंधित सूचना दे सकते है।

नई दिल्ली॥ चीन की मोबाइल निर्माता कंपनी ओप्पो के नोएडा स्थित दफ्तर के स्टाफ ने देश के राष्ट्रीय ध्वज के अपमान से नाराज होकर जोरदार विरोध दर्ज किया।

कंपनी के वरिष्ठ चीनी मूल के अधिकारी पर आरोप है कि उसने कंपनी की दीवार पर लगे राष्ट्रीय धव्ज के पोस्टर को फाड़कर कूड़ेदान में फेंक दिया था।- इसके विरोध में स्टाफ ने आठ घंटे से अधिक पुरजोर विरोध दर्ज करा अपनी नाराजगी जाहिर की।

स्टाफ के सदस्यों का विरोध आरोपी अधिकारी सुहाउ के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद ही ठंडा पड़ा।

'भारत माता की जय' के नारे लगा रहे कर्मचारियों ने पहले कंपनी की मेन बिल्डिंग की दीवार पर एक पोस्टर लगाया। इसके वाद विरोध के तौर पर सोमवार की देर रात तक वहां नारे लगाते हुए डटे रहे।

सेक्टर 63 में ओप्पो ऑफिस के बाहर प्रदर्शनकारियों ने सड़क बंद कर दिया। इसके साथ ही प्रदर्शनकारी कर्मचारियों ने विरोध के तौर पर कंपनी बिल्डिंग की दीवारों पर ऐसे कई सारे और पोस्टर लगाए।

 

नई दिल्ली॥ अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प फ्लोरिडा में छह और सात अप्रैल को आधिकारिक रूप से राष्ट्रपति की ओर से आयोजित होने वाले मार-ए-लागो रिट्रीट में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात करेंगे।  ट्रम्प के इस वर्ष 20 जनवरी को राष्ट्रपति पद संभालने के बाद दोनों नेताओं के बीच यह पहली मुलाकात होगी। पिछले माह ट्रम्प ने फ्लोरिडा के पॉम बीच पर जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे का मार-ए-लागो रिट्रीट में स्वागत किया था।

नई दिल्ली॥ आज लोकसभा में जीएसटी से जुड़े चार बिलों पर चर्चा होगी। खबरों के मुताबिक, लोकसभा अध्यक्ष ने टैक्स रिफॉर्म बिल पर चर्चा के लिए आठ घंटे आवंटित किए हैं।

वित्त मंत्री ने सेंट्रल जीएसटी, इंटीग्रेटेड जीएसटी, यूनियन टेरिटरी जीएसटी और कॉम्पेंसेशन जीएसटी बिलों को एक साथ सदन के पटल पर रखा है।

जीएसटी बिल एक नजर में

- डिमेरिट गुड्स पर सेस: पान मसाला पर मैक्सिमम 135%, सिगरेट पर 290% लग्जरी कार और कार्बोनेटेड ड्रिंक्स पर 15% तक सेस लगाने का प्रावधान है।

- कर चोरी पर जेल: ट्रांजेक्शन छिपाने या कर चोरी करने पर गिरफ्तारी हो सकती है। दोषी व्यक्ति को 5 साल तक की जेल और/या जुर्माना।

- मुनाफाखोरी पर लगाम: जिन वस्तुओं पर कम टैक्स लगेगा, उसका फायदा कस्टमर को मिलेगा। ऐसा नहीं करने वालों पर कार्रवाई होगी। नजर रखने के लिए अथॉरिटी बनेगी।

- छोटे बिजनेस को राहत: सालाना 50 लाख रुपए तक बिजनेस करने वाले मैन्युफैक्चरर्स को टर्नओवर के 1% तक टैक्स देना होगा। सप्लायर्स के लिए 2.5% है।

- ई-कॉमर्स पर भी जीएसटी: ई-कॉमर्स कंपनियां अपने प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करने वाले सप्लायर्स को भुगतान करने से पहले टैक्स काटेंगी। यह अधिकतम 1% होगा।

 

 

Page 10 of 17
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…